छत्तीसगढ़

अपनी रचनाओं से साहित्यकारों ने याद किया स्व. शीला शर्मा को

भिलाई

मुक्त कंठ साहित्य समिति द्वारा दिवंगत साहित्यकार डॉ. श्रीमती शीला शर्मा की पुण्यतिथि पर काव्य संध्या का आयोजन सूर्य विहार रेसिडेंट स्मृति नगर भिलाई में किया गया। मुख्य अतिथि राकेश नागदेव चेयरमैन सूर्य विहार प्रेसिडेंट स्मृति नगर भिलाई थे। अध्यक्षता समिति के अध्यक्ष गोविंद पाल ने की एवं विशेष अतिथि के रूप में वरिष्ठ साहित्यकार कवियित्री संतोष झांझी एवं विद्या गुप्ता उपस्थित थी।

कार्यक्रम में सर्वप्रथम स्वर्गीय शीला शर्मा के तैलीय चित्र पर सम्माननीय अतिथियों एवं उपस्थित साहित्यकार एवं रेसिडेंट के निवासियों द्वारा फूल माला एवं पुष्पांजलि अर्पित कर किया गया। आलेख प्रस्तुतीकरण डॉक्टर सुचित्रा शर्मा व्याख्याता साइंस कॉलेज दुर्ग ने किया। कार्यक्रम के अध्यक्ष गोविंद पाल ने उनके साहित्यिक योगदान एवं साहित्यिक गतिविधियों में उनके साथ बिताई स्मृतियों को याद कर उपस्थित सभी लोगों की आंखें नम कर दी। सोसायटी के चेयरमैन एवं कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राकेश नागदेव ने कहा कि डॉ शीला शर्मा के बारे में सुना बहुत था लेकिन बुद्धिजीवी समाज एवं साहित्यकारों के मुखारविंद से काव्यात्मक रूप में सुनकर और भी जानने का अवसर मिला। श्रीमती संतोष झांझी ने भी उनके बीच बिताए पलों को याद कर गजल के माध्यम से उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। विद्या गुप्ता ने स्वर्गीय डॉ शीला शर्मा को साहित्य के प्रति अगाध प्रेम एवं रुचि रखने वाला बताया।

इस दौरान उपस्थित साहित्यकारों में प्रकाश चंद्र मंडल, रियाज खान गौहर, शेख निजाम राही, माधुरी बिडवईकर, रामबरन कोरी, नवेद रजा दुर्गवी, एसके राय, ओमवीर करन, प्रदीप कुमार पांडे, पद्मा जोशी, डॉ. नौशाद सिद्दीकी, गजराज दास महंत तथा सोसाइटी के गणमान्य गण के रूप में अनिल विडवईकर, बृजेश गुप्ता, बीना गुप्ता, लखन वर्मा, सोनू सिंह, माणिक मेराल, यश, अनुष्का शर्मा ,अंजू शर्मा व अमरजीत सहित अन्य की उपस्थिति रही। कार्यक्रम में आभार प्रदर्शन संयुक्त रूप से डॉ ए.एन .शर्मा एवं बृजेश गुप्ता ने किया। कार्यक्रम का सफल संचालन ओम प्रकाश शर्मा ने किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close